उत्‍त्‍राखंड के 10 वे मुख्‍यमंत्री बने तीरथसिंह रावत, देहरादून में राजभवन में ली शपथ | वेस्टइंडीज के कप्तान कायरन पोलार्ड ने एक ओवर में लगाए छह छक्के, श्रीलंका के खिलाफ t 20 मैच में किया कारनामा |

खंडवा सांसद नंदकुमारसिंह का निधन, कोरोना के चलते मेदांता दिल्ली में थे उपचाररत, कल शाहपुर में होगा अंतिम संस्कार

खंडवा सांसद नंदकुमारसिंह का निधन, कोरोना के चलते मेदांता दिल्ली में थे उपचाररत, कल शाहपुर में होगा अंतिम संस्कार
भोपाल। खंडवा के सांसद नंदकुमार सिंह का निधन दिल्ली के मेदांता अस्पताल में हुआ निधन। पिछले लगभग 1 महीने से दिल्ली में भर्ती थे 11 जनवरी को कोरोना पॉजिटिव होने के बाद के बाद भोपाल के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था । ज्यादा सीरियस होने की वजह से उन्हें दिल्ली के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया था । उनका अंतिम संस्कार शाहपुर बुरहानपुर में होगा। सांसद नंदकुमार सिंह चौहान का देर रात दिल्ली के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया। पिछले लगभग 1 महीने से दिल्ली में भर्ती थे 11 जनवरी को कोरोना पॉजिटिव होने के बाद के बाद भोपाल के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था । ज्यादा सीरियस होने की वजह से उन्हें दिल्ली के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। चौहान के बेटे हर्षवर्धन ने इसकी पिता के निधन की पुष्टि की है। नंदकुमार सिंह चौहान का पार्थिव शरीर शाम 4 बजे तक विमान से खंडवा लाया जाएगा, जहां से गृहग्राम शाहपुर ले जाया जाएगा। बुधवार को उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी। ऐसा रहा नंदकुमार सिंह चौहान का राजनीतिक सफर बुरहानपुर जिले के शाहपुर में नंदकुमार सिंह चौहान का जन्म 8 सितंबर 1952 में हुआ था। पोस्ट ग्रेजुएट शिक्षा के बाद उन्होंने राजनीति को अपने कैरियर के रूप में चुना और भाजपा में शामिल हुए। बुरहानपुर जिले में स्थित शाहपुर नगर पालिका में वर्ष 1978-80 व1983-87 तक शाहपूर बुरहानपुर अध्यक्ष के तौर पर भाजपा से विजय होकर नगर अध्यक्ष रहे। इसके बाद सन् 1985-96 तक लगातार 2 बार भाजपा से विजयी हो कर मध्य प्रदेश विधानसभा के बुरहानपुर क्षेत्र से विधायक रहे थे। सन 1996 को 11वें लोकसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें खंडवा क्षेत्र से सांसद उम्मीदवार बनाया था। इसमें वें विजयी हुए थे, लेकिन उनका कार्यकाल1996-97 तक ही रहा। क्योकि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने अपना त्यागपत्र दे कर सरकार निरस्त कर दी थी। इसके बाद सन 1998 में उपचुनाव में 12वीं लोकसभा चुनाव में वे दूसरी बार खंडवा क्षेत्र से विजयी हुए थे। यह कार्यकाल भी 1998-99 तक ही रहा जिसका मुख्य कारण वाजपेयी सरकार के समर्थक पार्टी का समर्थन वापस लेना था। सन 1999 में 13वीं लोकसभा उपचुनाव में फिर से भाजपा ने खंडवा क्षेत्र से इन्हें उम्मीदवार बनाया। इसमें भी वें तीसरी बार विजयी हुए। इसने इनका कार्यकाल 1999-2004 तक 5 वर्ष पूर्ण चला। इसके बाद सन 2004 में 14वीं लोकसभा चुनाव में वे चौथी बार फिर से खंडवा क्षेत्र से सांसद का चुनाव जीत कर विजयी हुए परंतु वे विपक्ष में बैठे क्योकिं केंद्र में मनमोहन सिंह की कांग्रेस सरकार बन चुकी थी। फिर सन 2009 के 15वीं लोकसभा चुनाव में उन्हें फिर से खंडवा क्षेत्र से भाजपा ने उम्मीदवार बनाया परंतु इस बार वे कांग्रेस प्रत्याशी अरूण यादव से चुनाव हार गए थे। उन्हें पार्टी ने मध्य प्रदेश राज्य का भाजपा पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था परंतु सन 2013 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में उन्हें हटाकर नरेंद्र सिंह तोमर को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया गया। उन्हें 16वीं लोकसभा चुनाव में भाजपा ने पुन: खंडवा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया। इसमें वे चुनाव में विजयी हुए। उन्हें पुन: मध्य प्रदेश भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बना दिया गया था व सन 2018 में उन्होंने अपना त्यागपत्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पद से दे दिया। ताकि वे अपने संसदीय क्षेत्र में विकास कार्य कर सकें।

आखिर चार घंटे क्यों छुपाई गई मृत्यु ? कहीं व्यापम की अहम...

आखिर चार घंटे क्यों छुपाई गई मृत्यु ? कहीं व्यापम की अहम कड़ी को तो रास्ते से नहीं हटाया गया ? हनीट्रैप कांड़ में उलझाने वालों को मंत्री क्यों बनाया गया ?

आखिर चार घंटे क्यों छुपाई गई मृत्यु ? कहीं व्यापम की अहम कड़ी को तो रास्ते से नहीं हटाया गया...

मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने नगरीय निकायों के अध्‍यक्ष व...

मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने नगरीय निकायों के अध्‍यक्ष व महापौर पद के आरक्षण पर लगाई रोक

एमपी दुनिया न्यूज़ ग्वालियर। मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की ग्वालियर खंडपीठ ने नगर निगम, नगर...

भाजपा पर बिफरे विधायक, हमारा कसूर यह है कि हम 35-35 करोड़ में...

भाजपा पर बिफरे विधायक, हमारा कसूर यह है कि हम 35-35 करोड़ में नहीं बिके, सतीश सिकरवार बोले हाथ ठेला हटाये तो हम सड़क पर उतरेंगे

एमपीदुनिया न्यूज़ ग्वालियर। हमारा अपराध यह है कि हम बिके नहीं और हमने 35-35 करोड़ रूपये नहीं लिये...

एसा क्या हुआ कि आरक्षक मीनाक्षी वर्मा सीधे बैठ गई गृह...

एसा क्या हुआ कि आरक्षक मीनाक्षी वर्मा सीधे बैठ गई गृह मंत्री की कुर्सी पर

एमपीदुनिया न्यूज़ भोपाल। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने 8...

प्राचीन काल से महिलाएं समाज का गौरव बढ़ा रही हैं - उषा...

प्राचीन काल से महिलाएं समाज का गौरव बढ़ा रही हैं - उषा ठाकुर  महिला दिवस के अवसर पर कोरोना काल की वीरांगनाओं का इंदौर प्रेस क्लब में हुआ सम्मान

एमपीदुनिया न्यूज़ इंदौर। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर इंदौर प्रेस क्लब द्वारा प्रेस...