चीन का कुतुबमीनार से भी ऊंचा एयर प्यूरीफायर | चार हजार वर्ष पुरानी मिस्र की ममियों के रहस्य से उठा पर्दा |

यदि आपकी कुंडली में हंस योग है तो..

यदि आपकी कुंडली में हंस योग है तो..
कुंडली की पंच योग क्या है? पंचमहापुरुष योग में से एक हंस योग होता है। पंच मतलब पांच, महा मतलब महान और पुरुष मतलब सक्षम व्यक्ति। कुंडली में पंच महापुरुष मंगल, बुध, गुरु, शुक्र और शनि होते हैं। इन पांच ग्रहों में से कोई भी मूल त्रिकोण या केंद्र में बैठे हैं तो श्रेष्ठ हैं। केंद्र को विष्णु का स्थान कहा गया है। महापुरुष योग तब सार्थक होते हैं जबकि ग्रह केंद्र में हों। विष्णु भगवान के पांच गुण होते हैं। भगवान राम चंद्र और श्रीकृष्ण की कुंडली के केंद्र में यही पंच महापुरुष विराजमान थे। उपरोक्त पांच ग्रहों से संबंधित पांच महायोग के नाम इस तरह हैं:- 1.मंगल का रूचक योग, 2.बुध का भद्र योग, 3.गुरु का हंस योग, 4.शुक्र का माल्वय योग और 5.शनि का शश योग होता है। हंस योग क्या है? यह योग गुरु अर्थात बृहस्पति से संबंधित है। कर्क में 5 डिग्री तक ऊंचा, मुल त्रिकोण धनु राशि 10 डिग्री तक और स्वयं का घर धनु और मीन होता है। पहले भाव में कर्क, धनु और मीन, 7वें भाव में मकर, मिथुन और कन्या, 10वें भाव में तुला, मीन और मिथुन एवं चौथे भाव में मेष, कन्या और धनु में होना चाहिए तो हंस योग बनेगा। जब जब बृहस्पति ऊंचा या मूल त्रिकोना में, खुद के घर में या केंद्र में कहीं स्थित है तो भी विशेष परिस्थिति में यह योग बनेगा। बृहस्पति यदि किसी कुंडली में लग्न अथवा चन्द्रमा से 1, 4, 7 अथवा 10वें घर में कर्क, धनु अथवा मीन राशि में स्थित हों तो ऐसी कुंडली में हंस योग बनता है जिसका शुभ प्रभाव जातक को सुख, समृद्धि, संपत्ति, आध्यात्मिक विकास तथा कोई आध्यात्मिक शक्ति भी प्रदान कर सकता है।

कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची पर सस्पेंस बरकरार

कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची पर सस्पेंस बरकरार

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की चुनावी तैयारियां एक बार फिर पिछड़ती नजर आ रही है. इसी क्रम में...

होशंगाबाद: कार्यकर्ता महाकुंभ में अमित शाह देंगे जीत का...

होशंगाबाद: कार्यकर्ता महाकुंभ में अमित शाह देंगे  जीत का मंत्र

भाजपा के इस कार्यकर्ता महाकुंभ में राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, पार्टी महासचिव विनय...

कांग्रेस : टिकट को लेकर मचे घमासान को बताया अच्छा संकेत

 कांग्रेस : टिकट को लेकर मचे घमासान को बताया अच्छा संकेत

मध्यप्रदेश में 15 सालों से सत्ता से दूर कांग्रेस में अब विधानसभा टिकट को लेकर उथल-पुथल शुरू हो गई...

तिल द्वादशी पर तिल से करें श्रीहरि विष्णु का पूजन, सिद्ध...

तिल द्वादशी पर तिल से करें श्रीहरि विष्णु का पूजन, सिद्ध होंगे सभी कार्य...

धार्मिक पुराणों एवं ज्योतिष के अनुसार माघ मास की कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि को तिल द्वादशी का...

मकर संक्रांति पर क्या कहते हैं पुराण, 7 अनजानी बातें

मकर संक्रांति पर क्या कहते हैं पुराण, 7 अनजानी बातें

सूर्य संस्कृति में मकर संक्रांति का पर्व ब्रह्मा, विष्णु, महेश, गणेश, आद्यशक्ति और सूर्य की...